PM Mitra Yojna 2021 क्या है ? किसको मिलेगा इसका लाभ?

PM Mitra Yojna

दिनांक 06-10-2021 बुधवार को हुई मोदी सरकार की कैबिनेट मीटिंग में PM Mitra Yojna को हरी झंडी दिखा दी गयी है। इस योजना का पूरा नाम प्रधानमंत्री मेगा टेक्सटाइल इंटिग्रेटेड टेक्सटाइल एंड अपैरल योजना रखा गया है।

कैबिनेट ने इस योजना के तहत मेगा टेक्सटाइल पार्क के लिए 4,000 करोड़ रुपये से अधिक की इस योजना को मंजूरी दे दी है। सरकार का कहना है कि, इससे टेक्सटाइल और मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रांति आने वाली है।

क्या है PM Mitra Yojna

PM Mitra Yojna kya hai
Free laptop yojna up 2021

PM Mitra Yojna टेक्सटाइल इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए है। इस योजना में कुल 7 मेगा टेक्सटाइल पार्क बनाये जायेंगे. इस योजना के लिए अगले 5 सालों में 4,445 करोड़ रुपये आवंटित किये जायेंगे। केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि यह कदम पीएम मोदी के 5F विजन से प्रेरित है. इस 5F विजन में फार्म टू फाइबर टू फैक्ट्री टू फैशन टू फॉरेन शामिल हैं. सरकार के मुताबिक, इसमें विश्व स्तरीय इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास किया जाएगा.

लाखों नौकरियां निकलेंगी

इस योजना से टेक्सटाइल सेक्टर में 21 लाख नौकरियां पैदा होंगी. इनमें 7 लाख डायरेक्ट और 14 लाख इनडायरेक्ट योजनाएं शामिल हैं. इस योजना से प्रोडक्शन और निर्यात केंद्रित ग्रोथ होगी. सरकार ने बताया कि पीएम मित्र योजना के तहत, एक ही जगह पर स्पिनिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाइंग और प्रिंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा. सरकार के मुताबिक, इससे एक ही जगह पर पूरी वैल्यू चैन मौजूद होने की वजह से लॉजिस्टिक्स की कीमत घटेगी.

धनराशि का आवंटन

सरकार ने बताया कि PM Mitra Yojna के तहत मित्र पार्क्स को अलग-अलग राज्यों में स्थित ग्रीनफील्ड या ब्राउनफील्ड जगहों पर बनाया जाएगा. सभी ग्रीनफील्ड मित्र पार्क्स को विकसित करने के लिए 500 करोड़ रुपये का समर्थन दिया जाएगा. इसके अलावा सरकार के मुताबिक, ब्राउनफील्ड मित्र पार्क्स के विकास के लिए 200 करोड़ रुपये की धनराशि आवंटित की जाएगी. मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स को प्रतिसपर्धी प्रोत्साहन के लिए सभी मित्र पार्क्स को 300 करोड़ रुपये का सपोर्ट दिया जाएगा.

इस योजना के तहत, मित्र पार्क्स को स्पेशल पर्पस वाहन पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मोड में विकसित करेगा. इस स्पेशल पर्पस व्हीकल का स्वामित्व राज्य सरकार और भारत सरकार के पास होगा. सरकार के मुताबिक, योजना का लक्ष्य भारतीय कंपनियों को ग्लोबल कंपनियों के तौर पर उभरने में मदद करना है.

PM Mitra Yojna में निवेश आकर्षित करने के लिए वर्ल्ड क्लास इंडस्ट्रीयल इंफ्रास्ट्रक्चर को विकसित किया जाएगा. जिससे इस योजना को सफल बनाया जा सके.

किसे मिलेगा इसका लाभ?

सरकार का कहना है कि वर्तमान में टेक्सटाइल उद्योग एकीकृत नहीं है लेकिन इसमें अब तक 10 राज्यों ने दिलचस्पी दिखाई है. PM Mitra Yojna से लाखों नौकरियां पैदा होंगीI इस योजना के तहत सीधे तौर पर 7 लाख और अपरोक्ष रूप से 14 लाख लोगों को रोज़गार मिलेगा खासतौर पर महिलाओं को.

प्रधानमंत्री पोषण योजना क्या है? किसको मिलेगा इसका फायदा?

Leave a Reply

Your email address will not be published.