Solar Panel yojna 2022 : सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना क्या है? इसमें आवेदन कैसे करे? इसके लाभ क्या हैं?

Solar rooftop subsidy yojna

Solar Panel yojna 2022 ,Solar rooftop Subsidy yojna, सोलर पैनल कैसे लगवाए , सोलर रूफ टॉप सब्सिडी योजना क्या है, सोलर पैनल फ्री में कैसे लगवाए, सोलर पैनल लगवाने में कितना खर्च आता है. सभी जानकारी.

बढ़ती हुई बिजली की खपत और उससे होने वाली समस्याओं को देखते हुए भारत सरकार ने नवीनीकरण ऊर्जा मंत्रालय द्वारा सोलर रूफटॉप योजना शुरू की है। इस योजना के तहत देश का कोई भी नागरिक फ्री में अपने छत पर सोलर पैनल लगवा सकता है और  फ्री बिजली आदि अन्य लाभ प्राप्त कर सकते है। सोलर रूफटॉप योजना के अंतर्गत आपको अपनी छतों पर सोलर पैनल लगवाने पर सब्सिडी प्रदान की जाती है। 

क्या है Solar Panel yojna 2022

भारत में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (Ministry of New & Renewable Energy) ने सोलर रूफ टॉप योजना की शुरआत की है। इसके लिए सरकार सोलर पैनल लगवाने वाले उपभोगताओ को सब्सिडी भी दे रही है।

भारत सरकार की Solar rooftop Subsidy योजना या Solar Panel yojna 2022 का फायदा वे लोग ले सकते है, जिनके पास अपने घर की छत पर खाली जगह हो। वे लोग अपनी छत पर सोलर पैनल लगवा कर अपने बिजली के खर्च को कम कर सकते हैं।

सोलर रूफटॉप पैनल से जुड़ी कुछ सूचनाएं

अपने घर की छत पर Solar Panel yojna लगवाने के लिए आपको कुछ बातों पर ध्यान देना होगा जो की निम्न प्रकार हैं –

* सोलर पैनल लगवाने के लिए आपको लगभग एक किलोवाट सौर ऊर्जा के लिए 10 वर्ग मीटर जगह की जरूरत होती है।

* सोलर पैनल को अपने ऑफिस या कारखाने की छत पर लगवाने से आप  बिजली पर होने वाले खर्च को लगभग 30 से 50 प्रतिशत तक कम कर सकते हैं।

* इसके अतिरिक्त केंद्र सरकार 3 किलोवाट तक के सोलर प्लांट पर 40 प्रतिशत की सब्सिडी और 3 किलोवाट के बाद 10 किलोवाट तक 20 प्रतिशत तक की सब्सिडी भी देगी।

इस योजना को राज्यों में स्थानीय विद्युत वितरण कंपनी (Discom) संचालित कर रही हैं।

सोलर रूफटॉप पैनल लगवाने से होने वाले फायदे –

* इससे आपको बिजली बिल में राहत मिलेगी।

* सूर्य की रोशनी से एकत्रित होने वाली ऊर्जा से पर्यावरण हितैषी बिजली का उत्पादन होगा।

* आपको फ्री में बिजली प्राप्त होगी।

* तथा 5 या 6 साल में योजना लागत का भुगतान पूरा हो जाएगा और लगभग 25 साल तक सोलर पैनल का उपयोग करने का लाभ  मिलेगा।

जरूरत के अनुसार लगवाए सोलर पैनल

आप अपनी जरूरत के अनुसार Solar Panel yojna लगा सकते है। यदि आपके घर में बिजली की खपत सामान्य रूप में होती है तथा कुछ ही बिजली से चलने वाले उपकरणों का उपयोग होता है। तो समान्यत: आपको रोजाना 6 से 8 यूनिट तक की बिजली की जरूरत होगी।

इसके लिए आप मोनोपर्क बाइफीशियल सोलर पैनल लगा सकते हैं ये नई टेक्नोलॉजी के सोलर पैनल हैं इन पैनल्स में आगे और पीछे दोनों तरफ से पावर जेनरेट होता है। अगर आप ऐसे ही चार सोलर पैनल को मिलाकर लगाते हैं, तो आपको रोजाना 6-8 यूनिट तक बिजली आसानी से मिल जाएगी। ये 4 सोलर पैनल करीब 2 किलोवाट के होंगे। इसके अलावा आप अपनी जरूरत के हिसाब से ज्यादा या कम किलोवाट्स के पैनल्स लगा सकते हैं।

कितना आएगा खर्च और कितनी मिलेगी सब्सिडी

अगर आप अपनी जरूरतों को देखते हुए करीब 2 किलो किलोवाट का सोलर पैनल लगवा रहे हैं तो इसका खर्च लगभग 1.20 लाख रुपये तक आ जाएगा। लेकिन आपको इस पर  सरकार की तरफ से 40 % की सब्सिडी मिल जाएगाी, जिससे आपका लागत मूल्य घटकर 72 हजार रुपये रह जायगा क्योंकि सरकार की ओर से आपको 48,000 रुपये की सब्सिडी मिल जाएगी। 

सोलर पैनल की लाइफ लगभग 25 साल की होती है। ऐसे में आप एक बार में इतना निवेश करके लंबी अवधि के लिए महंगी बिजली से निजात पा सकते हैं। इसमें होने वाली लागत का भुगतान आप 5- 6 साल में पूरा कर लेंगे और इसके बाद आपको एक तरह से मुफ्त में बिजली मिलेगी।

Free में solar panel kaise लगवाए

घरेलू लाभार्थी, जो नए तंत्र के तहत rooftop solar panel लगवाना चाहते हैं। उन्हे राष्ट्रीय पोर्टल पर आवेदन करना होगा जिसके बाद लाभार्थी को बैंक खाते के विवरण सहित आवश्यक जानकारी जमा करनी होगी जहां सब्सिडी राशि हस्तांतरित की जाएगी। आवेदन के समय, लाभार्थी को पूरी प्रक्रिया और सब्सिडी राशि के बारे में सूचित किया जाएगा जो कि आरटीएस संयंत्र की स्थापना के लिए प्राप्त की जा सकती है। 

अगले 15 कार्य दिवसों के अंदर तकनीकी व्यवहार्यता अनुमोदन (technically feasibility approval) जारी करने के लिए आवेदन संबंधित डिस्कॉम को ऑनलाइन भेज दिया जाएगा। आवेदन DISCOM को भेजने के बाद इसे DISCOM पोर्टल पर भी प्रदर्शित किया जाएगा।

तकनीकी व्यवहार्यता प्राप्त करने के बाद, लाभार्थी DCR की शर्तों को पूरा करने वाले सौर मॉड्यूल का चयन करके और बीआईएस द्वारा प्रमाणित एएलएमएम और इनवर्टर के तहत सूचीबद्ध करके अपनी पसंद के किसी भी विक्रेता से rooftop solar panel system लगवा सकते हैं। 

गुणवत्ता और स्थापना के बाद की सेवाओं को सुनिश्चित करने के लिए, एमएनआरई आरटीएस संयंत्र के लिए मानक और विनिर्देश और लाभार्थी और विक्रेता के बीच निष्पादित किए जाने वाले समझौते का एक प्रारूप जारी करेगा। अन्य नियमों और शर्तों के बीच समझौते में यह सुनिश्चित करने का प्रावधान होगा कि स्थापित आरटीएस संयंत्र सुरक्षा और प्रदर्शन मानकों को पूरा करता है और यह कि विक्रेता समझौते की शर्तों के अनुसार अगले 5 वर्षों या उससे अधिक अवधि के लिए संयंत्र का रखरखाव करेगा।

सभी विक्रेताओं की सूची पोर्टल पर उपलब्ध कराई जाएगी।

कैसे करे फ्री सोलर रुपटॉप योजना के लिए आवेदन (पंजीकरण)

सोलर रूफटॉप योजना या Solar Panel yojna 2022 के पंजीकरण के लिए आवेदक को सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट (solarrooftop.gov.in) पर जाना होगा।

इसके बाद होम पेज पर आपको अप्लाई फॉर सोलर रूफटॉप पर क्लिक करना है।

इसके बाद आपको नए पेज पर सभी राज्य और उसके लिंक दिखाई देंगे, आप जिस भी राज्य से है उसके दिए हुए लिंक पर क्लिक करना है।

जिसके बाद आप अपने द्वारा चुने गए  राज्य के पोर्टल पर पहुँच जायेंगे।

अब आपको अप्लाई ऑनलाइन पर सोलर रूफटॉप एप्लीकेशन पर क्लिक करना है।

अब इसके बाद आपको पोर्टल पर पंजीकरण हेतु न्यू यूजर रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करना है।

यहाँ आपको पूछी गयी जानकरी को भरके रजिस्टर नाउ (register now) पर क्लिक कर करना है। रजिस्ट्रेशन होने के बाद अब आपको लॉगिन करके आवेदन फॉर्म की प्रक्रिया को पूरा कर लेना है।

क्या है सोलर रूफटॉप योजना का हेल्पलाइन नंबर- 

Solar Panel yojna 2022 के लिए आवेदन करने या इससे जुडी़ किसी भी प्रकार की समस्या के समाधान के लिए आप इस हेल्पलाइन नंबर 1800 180 3333 पर सम्पर्क कर सकते है। इसके अलावा आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर भी संपर्क सूचना प्राप्त कर सकते है और आसानी से अपनी समस्या का समाधान कर सकते है।

Solar Business Ideas 2022 : सौर ऊर्जा तकनीक से जुड़े सफल बिजनेस

Free Laptop Yojna UP 2021 क्या है ? ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

Leave a Reply

Your email address will not be published.